Thursday, July 18th, 2024

भोपाल में टमाटर के दामों में राहत, बाकी सब्जियों में कितने रुपये का उछाल?

भोपाल

 मध्य प्रदेश के भोपाल में हाल ही में 80 से 100 रुपये प्रति किलो बिकने वाले टमाटर के भाव में हल्की सी नरमी आई है. आज बुधवार को थोक मंडी में टमाटर के दाम 60 रुपये प्रति किलो रहे, हालांकि बाकी सब्जियों के भाव में उछाल देखा गया है. सब्जी के थोक व्यापारियों के मुताबिक बारिश के चलते आने वाले दिनों में सब्जियों के दाम में और ज्यादा उछाल आएगा.

बारिश के दिनों में हरी सब्जियां महंगी हो जाती हैं. सब्जियों के दाम बढ़ने की वजह अधिक बारिश के कारण सब्जियों का सड़ना-गलना होता है. इसकी वजह से सब्जी मंडी तक सब्जियां पर्याप्त मात्रा में नहीं आ पातीं और दाम में इजाफा हो जाता है. सब्जियों के दाम में सबसे पहले टमाटर के भाव बढ़े थे.  

20 से 25 दिन पहले टमाटर 30 से 40 रुपये प्रति किलो बिक रहे थे. इसके बाद अचानक थोक भाव 80 से 100 किलो तक पहुंच गए थे, लेकिन आज टमाटर के दाम में कमी देखी गई. राजधानी भोपाल की करोंद मंडी में बुधवार को टमाटर के थोक भाव 60 रुपये प्रति किलो रहे.

बाकी सब्जियों के भाव में उछाल
टमाटर के दाम भले ही कुछ घट गए हो, लेकिन बाकी सब्जियों के दाम में उछाल देखा गया. बुधवार को प्याज 40 से 60 रुपये प्रति किलो के बीच रहा, जबकि हरा धनिया 200 रुपये, भिंडी-करेला 50 रुपये, मेथी 80 रुपये किलो, आलू 35 से 40 रुपये किलो और मिर्च 100 रुपये प्रति किलो के भाव बिकी.

बरसात शुरू होते ही अब सब्जियों के दाम भी बढ़ने लगे हैं. इसकी शुरूआत टमाटर से हुई. 20 से 25 दिन पहले तक 30 से 40 रुपये किलो बिकने वाला टमाटर पहले 80 रुपये प्रतिकिलो हुआ, इसके बाद अब 100 रुपये तक पहुंच गया है. इसी तरह प्याज 40 से 50 रुपये किलो, हरा धनिया 200 रुपये किलो, भिंडी-करेला 50 रुपये किलो, मेथी 80 रुपये किलो, आलू 30 से 40 रुपये किलो और मिर्ची 100 रुपये किलो हो गई है.

इसके अलावा गोबी, पत्ता गोबी सहित अन्य सब्जियों के भाव भी बढ़ गए हैं. सब्जी मंडी के व्यापारियों का कहना है कि पहले बारिश और फिर धूप की वजह से टमाटर की फसल प्रभावित हुई. वहीं अब झमाझम बारिश हो रही है, जिसकी वजह से भाव बढ़ रहे हैं. सब्जी कारोबारियों का कहना है कि अगस्त में नई फसल आने के बाद ही टमाटर के दामों में राहत मिलेगी.

व्यापारियों ने क्या कहा?
सब्जी व्यापारियों के अनुसार टमाटर के दाम में फिलहाल अभी और भी तेजी आएगी. सब्जी के थोक कारोबारियों के अनुसार 20 से 25 दिन पहले टमाटर की 25 किलो वाली क्रेट के दाम 400 से 500 रुपये तक हो गए थे, लेकिन अब वही क्रेट 1000 से 1200 रुपये प्रति क्रेट हो गए हैं. सब्जी के थोक व्यापारियों के अनुसार करोंद सब्जी मंडी में अलीराजपुर, मंदसौर के अलावा सीहोर, रायसेन सहित आसपास के जिलों में टमाटर आता थे.

एक महीने पहले तक औसतम 3 से 4 टन भार क्षमता वाली रोजाना 25 से 30 गाड़ियां आती थीं, जबकि 12 टन भार क्षमता वाली भी करीब 10 गाड़ियां आती थी, लेकिन अब 8 से 10 छोटी और 5 से 6 बड़ी गाड़ियां ही आ रही हैं, जिसकी वजह से टमाटर के दामों में उछाल आया है. सब्जी व्यापारियों के अनुसार बारिश के दिनों में टमाटर सहित अन्य हरी सब्जियों के दामों में और भी उछाल आएगा.

बारिश के दौरान भाव में कमी की उम्मीद नहीं
करोंद सब्जी मंडी के थोक व्यापारी शेख माजिद मे बताया कि बारिश भर सब्जियों के दाम में कमी आने की उम्मीद नहीं है. सब्जी मंडी तक पर्याप्त मात्रा में किसान सब्जी नहीं ला पा रहे हैं, जिसकी वजह से दाम में उछाल आ रहा है. अन्य व्यापारियों ने बताया कि खेतों में कीचड़ हो जाने और बारिश में सब्जियों के सड़ने और गलने की वजह से फसल खराब हो जाती है. इसकी वजह से सब्जी मंडी तक सब्जी नहीं आती और भाव में बढ़ोतरी होती है.

Source : Agency

आपकी राय

10 + 10 =

पाठको की राय