Sunday, June 16th, 2024

मोदी सरकार में रेलवे के इस शेयर ने मचाई धूम, अब कंपनी को मिला बड़ा ऑर्डर, नई सरकार में एक बार फिर पीएसयू से जुड़े शेयर पर फोकस

नई दिल्ली
केंद्र में एक बार फिर से नरेंद्र मोदी सरकार की वापसी हुई है। इस नई सरकार में एक बार फिर पीएसयू से जुड़े शेयर फोकस में रहने वाले हैं। ऐसा ही एक शेयर रेलवे से जुड़ी कंपनी-रेलटेल कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का है। इस शेयर को आईसीटी इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए नेशनल इंफॉर्मेटिक्स सेंटर सर्विसेज इनकॉर्पोरेटेड (एनआईसीएसआई) से बर मिला है।

ऑर्डर की डिटेल
यह ऑर्डर आईसीटी इंफ्रा की आपूर्ति, स्थापना, कॉन्फ़िगरेशन, कमीशनिंग और इंटीग्रेशन के लिए है। इसके अतिरिक्त कंपनी आईसीटी इंफ्रा के संचालन और मेंटेनेंस का भी काम करेगी। कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंज को बताया कि यह परियोजना 31 अगस्त 2024 तक पूरी की जाएगी। इससे पहले मार्च महीने में कंपनी को ग्रेटर मुंबई नगर निगम से ₹351.95 करोड़ का ऑर्डर मिला था। वहीं, बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक से ₹130 करोड़ का काम मिला। इसी तरह, कंपनी को ओडिशा में ₹114 करोड़ और ₹87 करोड़ के दो ऑर्डर मिले थे।

शेयर का हाल
शुक्रवार को रेलटेल के शेयर 0.15% बढ़कर ₹378.50 पर बंद हुए। शेयर ₹491 के अपने 52 वीक हाई से लगभग 23% गिर चुका है। फरवरी 2024 में यह शेयर 491 रुपये के स्तर तक गया था। जून 2023 में शेयर की कीमत 123.05 रुपये थी। यह शेयर के 52 हफ्ते का लो है। बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में इस शेयर ने निवेशकों को मल्टीबैगर रिटर्न दिया है।

कंपनी के तिमाही नतीजे
मार्च तिमाही में रेलटेल कॉरपोरेशन का मुनाफा तीन प्रतिशत बढ़कर 77.53 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वित्त वर्ष 2022-23 की समान तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 75.24 करोड़ रुपये रहा था। रेलवे मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली ‘मिनी रत्न’ कंपनी की कुल आमदनी मार्च तिमाही में 852 करोड़ रुपये रही है, जो 2022-23 की समान तिमाही में 707.29 करोड़ रुपये थी। बीते पूरे वित्त वर्ष के लिए कंपनी की कुल आमदनी 2,622 करोड़ रुपये जबकि प्रॉफिट 246 करोड़ रुपये रहा है।

Source : Agency

आपकी राय

6 + 15 =

पाठको की राय