Thursday, July 18th, 2024

बांग्लादेश को सुपर-8 के करीब लाते ही सामने आया शाकिब का घमंड बोले - कौन सहवाग?

 नई दिल्‍ली
बांग्‍लादेश के स्‍टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन ने गुरुवार को नीदरलैंड्स के खिलाफ फॉर्म में वापसी की। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने 46 गेंदों में 9 चौके की मदद से नाबाद 64 रन की पारी खेली। शाकिब ने अपने टी20 इंटरनेशनल करियर का 13वां अर्धशतक जमाया। टी20 वर्ल्‍ड कप में शाकिब ने 8 साल बाद अर्धशतक जड़ा।

फॉर्म में लौटते ही शाकिब अल हसन ने अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया। उन्‍होंने सबसे पहले भारतीय टीम के पूर्व विस्‍फोटक बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग पर निशाना साधा, जिन्‍होंने शाकिब की टीम में जगह पर सवाल खड़े किए थे। सहवाग ने कहा था कि शाकिब को काफी पहले ही टी20 प्रारूप से संन्‍यास ले लेना चाहिए था। वीरू ने यह भी कहा कि शाकिब के फटाफट प्रारूप में आंकड़ें बाद में शर्मनाक कहलाएंगे।

वीरेंद्र सहवाग का बयान

वीरू ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, ''पिछले वर्ल्‍ड कप में मुझे लगा कि शाकिब को टी20 प्रारूप में नहीं चुना जाना चाहिए। उनके संन्‍यास का समय बहुत पहले आ गया था। आप इतने सीनियर खिलाड़ी हैं। आप टीम के कप्‍तान रह चुके हैं। आपको अपने पिछले कुछ आंकड़ों को देखकर शर्मिंदा होना चाहिए। आपको आगे आकर घोषणा करनी चाहिए कि अब बहुत हुआ, मैं इस प्रारूप से संन्‍यास ले रहा हूं।''

शाकिब ने किया पलटवार

हालांकि, शाकिब अल हसन ने नीदरलैंड्स के खिलाफ मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में वीरेंद्र सहवाग पर तगड़ा पलटवार किया। जब शाकिब से पूछा गया कि सहवाग के बयान पर क्‍या प्रतिक्रिया देंगे तो 37 के ऑलराउंडर ने जवाब में कहा, ''कौन हैं सहवाग''? शाकिब के इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

गौरतलब है कि सहवाग ने शाकिब के खराब फॉर्म के कारण टीम में उनकी जगह पर सवाल उठाए थे और कहा था कि उन्हें संन्यास ले लेना चाहिए था। भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने बांग्लादेश के ऑलराउंडर पर बल्ले से पर्याप्त जिम्मेदारी नहीं लेने का भी आरोप लगाया। 37 वर्षीय अनुभवी खिलाड़ी ने लंबे समय तक खराब फॉर्म के बाद आखिरकार डच के खिलाफ शानदार नाबाद 64 (46 बॉल) रन बनाकर फॉर्म हासिल किया।

अर्धशतक के बाद शाकिब ने कहा कि एक खिलाड़ी का काम किसी सवाल का जवाब देना नहीं है, बल्कि हर संभव तरीके से अपनी टीम में योगदान देना है। जब उनसे सवाल पूछा गया तो उन्होंने सबसे पहले पूछा- कौन? फिर उन्होंने कहा- एक खिलाड़ी कभी किसी सवाल का जवाब देने नहीं आता। एक खिलाड़ी का काम टीम के लिए बल्लेबाजी करना है अगर वह बल्लेबाज है और टीम में योगदान देता है। अगर वह गेंदबाज है, तो उसका काम अच्छी गेंदबाजी करना है। विकेट किस्मत पर निर्भर करता है। अगर वह फील्डर है, तो उसे हर रन बचाना चाहिए और जितने हो सके उतने कैच लेने चाहिए।

शाकिब ने अपने आलोचकों के बारे में बात करते हुए कहा- किसी के पास जवाब देने के लिए कुछ नहीं है। मुझे लगता है कि मौजूदा खिलाड़ी के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वह अपनी टीम में कितना योगदान दे सकता है। जब वह योगदान नहीं दे सकता, तो स्वाभाविक रूप से चर्चा होगी और मुझे नहीं लगता कि यह कोई बुरी बात है। बांग्लादेश के पूर्व कप्तान ने कहा कि वह अपने पूरे करियर में अपने प्रदर्शन को लेकर कभी चिंतित नहीं रहे और हमेशा टीम के लिए योगदान देने पर ध्यान केंद्रित किया है।

Source : Agency

आपकी राय

8 + 11 =

पाठको की राय