Tuesday, April 23rd, 2024

Rajasthan: सुखदेव गोगामेड़ी की पत्नी ने दी जौहर की धमकी

जयपुर.

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष रहे सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी शीला शेखावत ने रविवार से न्याय यात्रा शुरू की। न्याय यात्रा को गोगामेड़ी (हनुमानगढ़) पुलिस ने रोक दिया। इससे गुस्साए समाज के लोग सड़क पर धरने पर बैठ गए। पुलिस ने समझाइश का प्रयास किया, लेकिन न्याय यात्रा आगे रवाना हुई। गोगामेड़ी की पत्नी ने आरोप लगाया कि सरकार अपने वादे से मुकर गई है। उन्होंने जयपुर में सीएम हाउस में जौहर करने की धमकी दी है।

गोगामेड़ी के पैतक गांव 5 जीजीएम से गोगामेड़ी की समाधि स्थल से शुरू हुई। न्याय यात्रा करीब 13 दिन बाद जयपुर पहुंचने की संभावना है। न्याय यात्रा पहले दिन पैतृक गांव से लेकर भादरा आकर रुकी। न्याय यात्रा पहले दिन 25 किलोमीटर चली। शीला कंवर ने भाजपा सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया। कहा- राजेंद्र राठौड़ सहित भाजपा के अनेक नेताओं की मध्यस्ता में राज्य सरकार ने उनकी सभी 11 सूत्री मांगों पर लिखित में सहमति दी थी। अब तक परिवार को सुरक्षा और एनआईए से जांच करवाने के अलावा कोई मांग पूरी नहीं हुई। हालांकि वह उस समय मध्यस्था कर रहे नेताओं से भी मिली है, लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। शीला शेखावत ने कहा कि उस समय परिवार के सदस्य को नौकरी देने, मृतक अजीत सिंह के परिवार को सुरक्षा और मुआवजा देने, गोगामेड़ी को सुरक्षा नहीं उपलब्ध करवाने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई के साथ हत्या करवाने के लिए हथियार उपलब्ध करवाने वाले मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग अभी पूरी नहीं हुई। उन्होंने यह भी कहा कि एनआईए ने अभी तक क्या किया है उन्हें इसकी जानकारी तक नहीं है। गोगामेड़ी थाने के सामने न्याय यात्रा को पुलिस ने रोककर समझाइश का प्रयास किया, लेकिन पुलिस विफल रही। पुलिस और प्रशासन ने न्याय यात्रा का पीछा कर फिर से दूसरी बार रोक कर समझाइश का प्रयास किया, लेकिन इस बार भी राजपूत समाज ने न्याय यात्रा को रोकने से इनकार कर दिया। नोहर एडीएम गोपाल कुमार, एसडीएम पंकज गढ़वाल, नोहर सेक्टर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुभाष शर्मा और सीओ सुभाष गोदारा ने समझाइश का प्रयास किया, लेकिन वार्ता विफल रही।

सीएम हाउस में जौहर की चेतावनी
शीला शेखावत ने कहा कि वह अपने पति को न्याय दिलवाने के लिए बेटियों के साथ पैदल जयपुर के लिए रवाना हुई है। रास्ते में सर्व समाज के लोग और करणी सैनिक जुड़ते जाएंगे। जयपुर पहुंच कर वह अपने समर्थकों के साथ मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगी। शीला शेखावत ने कहा पुलिस प्रशासन ने हमें रोका है और कह रहे हैं कि हमारी सरकार से बात चल रही है। शीला ने चेतावनी देते हुए कहा कि यह हमारी आखिरी न्याय यात्रा है। मैं सीएम हाउस पहुंच कर जौहर करूंगी। शीला ने कहा की हमने सरकार को 3 महीने का समय दे दिया। अब किसी प्रकार का कोई समय नहीं दिया जाएगा। वह अपनी न्याय यात्रा जारी रखेगी। हमारे राजपूत समाज में पुराने समय से जौहर होता आया है वो अब फिर होगा। मैं अकेली ही नहीं जो भाई-बहन साथ आएंगे वो भी जौहर करेंगे।

Source : Agency

आपकी राय

10 + 7 =

पाठको की राय