Monday, March 4th, 2024

नीतीश सरकार ने बिहार में पास किया बहुमत का टेस्ट, पक्ष में 129 वोट, विपक्ष 'शून्य

पटना
 बिहार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट को नीतीश सरकार पास कर गई। ध्वनिमत से सरकार की जीत हुई। पक्ष में 129 और विपक्ष में कोई वोट नहीं पड़ा। नीतीश कुमार ने डिप्टी स्पीकर से कहा कि वोटिंग भी करा लिया जाए। हमने सदन में विश्वास मत का प्रस्ताव रखा, जिसपर विभिन्न नेताओं ने अपनी राय रखी है। सीएम जैसे ही बोलना शुरू किए विपक्षी दल हंगामा करने लगे। इसपर नीतीश कुमार ने कहा कि अगर नहीं सुनना चाहते हैं तो सीधे वोटिंग करा दिया जाए। हम सबकी बात सुने हैं। हमको 2005 से काम करने का मौका मिला। उससे पहले इनके (तेजस्वी यादव) पिताजी और माताजी (लालू यादव और राबड़ी देवी) को सरकार चलाने का मौका मिला। याद कीजिए कहीं कोई रोड था क्या, कोई शाम के बाद घर से निकल पाता था क्या?

सदन में नीतीश सरकार को मिले 129 वोट
बिहार विधानसभा में नीतीश सरकार के पक्ष में 129 वोट पड़े। जबकि, विपक्ष को शून्य वोट मिले। जैसे ही वोटिंग शुरू हुई विपक्ष के सदस्य वाकआउट कर गए। मगर वोटिंग के प्रॉसेस को पूरा किया गया। बहस के दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि ये मुस्लिम की बात करते हैं, आए दिन हिंदू-मुस्लिम का विवाद होता था। हमने हिंदू-मुस्लिम का झगड़ा बंद कराया। जो 15 साल में मुस्लिमों को न्याय नहीं मिला, हमने आने के बाद कार्रवाई की। कितना डेवलपमेंट हुआ है।
नीतीश सरकार को बहुमत से 7 वोट ज्यादा मिले

बहस केस दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि जो हम लोगों के पक्ष में हैं उनका भी वोट ले लीजिए और विपक्ष में हैं उनका भी वोट ले लीजिए। इस पर डिप्टी स्पीकर ने हां, ना करा के ध्वनिमत से बहुमत पास कराने की घोषणा कर दी। विपक्ष के सदस्य सदन से वॉक आउट कर गए। मगर, बाद में वोटिंग हुई। जिसमें नीतीश सरकार को 129 वोट मिले। बिहार विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 122 का है।


'बिहार की जनता को सच्चाई पता चल सके'
बहुमत परीक्षण के दौरान बिहार विधानसभा के स्पीकर ने हां और ना कराके ध्वनिमत से बहुमत पास कर दी। इसी के साथ तेजस्वी यादव के नेतृत्व में विपक्ष के सदस्य सदन से वॉक आउट कर गए। फिर डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने भी कहा कि पक्ष और विपक्ष दोनों सदस्यों की गिनती कराई जाए, ताकि बिहार की जनता को सच्चाई पता चल सके।

स्पीकर को हटाने में सरकार के साथ 125 विधायकों के खड़े होने से ही साफ हो गया था कि नीतीश के पास बहुमत है और सरकार के विश्वास मत पर बहस के बाद मत विभाजन एक औपचारिकता है। चौधरी ने विधानसभा के संचालन की शुरुआत की और अपने खिलाफ आए अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस की जानकारी देने के बाद संचालन का काम उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी को सौंप दिया था। बहस के दौरान आरजेडी नेता तेजस्वी यादव समेत विपक्षी दलों के नेताओं ने नीतीश पर तीखे हमले किए जबकि जवाब में विजय चौधरी, विजय सिन्हा और सम्राट चौधरी ने नीतीश से पहले आरजेडी सरकारों के दौर और लालू यादव परिवार पर भ्रष्टाचार के आरोपों की याद दिलाई।

 सम्राट चौधरी ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट पेश किया

विधानसभा में उपमुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सम्राट चौधरी ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट पेश किया। सोमवार को पेश किए गये आर्थिक सर्वेक्षण के अनुसार वर्ष 2022-23 के लिए त्वरित अनुमान के अनुसार, वर्तमान मूल्य पर बिहार का सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) 15.5 फीसदी बढ़कर 7.5 लाख करोड़ रुपये हो जाने का अनुमान्य है। जबकि स्थिर मूल्य 10.6 फीसदी बढ़कर 4.4 लाख करोड़ रुपये पहुंच जाना अनुमानित हैं।

फ्लोर टेस्ट में नीतीश सरकार पास, पक्ष में 129 वोट पड़े

बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार के रखे विश्वास मत प्रस्ताव को ध्वनि मत से पारित किया गया। अब सदन में वोटिंग कराई गई। नीतीश सरकार के पक्ष में 129 वोट पड़ और विपक्ष में शून्य वोट मिला।

विपक्ष के बाहर जाने के बाद भी नीतीश के विश्वास मत के पक्ष में विधायकों की गिनती
 नीतीश कुमार की सरकार के विश्वास मत पर वोटिंग से पहले विपक्ष ने सदन का बहिष्कार कर दिया। इसके बाद सीएम नीतीश के कहने पर उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने पक्ष में विधायकों को खड़ा होने कहा और उनकी गिनती करवाई। सरकार के समर्थन में 129 वोट पड़े। स्पीकर को हटाने के वक्त सरकार के पक्ष में 125 वोट ही पड़े थे। विश्वास मत पर वोटिंग के दौरान 4 और वोट सरकार के पक्ष में बढ़ गए।

 फ्लोर टेस्ट में नीतीश सरकार ने विश्वास मत हासिल किया, विपक्ष का सदन से वॉकआउट

बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार के रखे विश्वास मत प्रस्ताव को ध्वनि मत से पारित किया गया। अब सदन में वोटिंग कराई जा रही है। जय श्रीराम के नारे लगाते हुए बीजेपी विधायक नीतीश सरकार के समर्थन में खड़े हुए।

हम सबके हित में काम करेंगे- नीतीश कुमार

बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार के रखे विश्वास मत प्रस्ताव पर बहस चल रही है। सदन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हम सबके हित में काम करेंगे।

 

Source : Agency

आपकी राय

6 + 3 =

पाठको की राय