Tuesday, April 23rd, 2024

मेटा ने की सख्ती: जनवरी में भारत में एफबी , इंस्टाग्राम पर 2.2 करोड़ से अधिक कंटेंट हटाए

फरवरी में 12.5 प्रतिशत बढ़ा जीएसटी कलेक्शन, 1,68,337 करोड़ रुपए पर पहुंचा आंकड़ा

मेटा ने की सख्ती: जनवरी में भारत में एफबी , इंस्टाग्राम पर 2.2 करोड़ से अधिक कंटेंट हटाए

मेटा ने भारत में फेसबुक से 1.78 करोड़ और इंस्टाग्राम पर 48 लाख आपत्तिजनक कंटेंट को हटाया  

नई दिल्ली
इस साल फरवरी में सकल वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व संग्रह सालाना आधार पर 12.5 प्रतिशत बढ़कर 1,68,337 करोड़ रुपये हो गया। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों में यह बात सामने आई है। इसमें मुख्य योगदान घरेलू लेनदेन से जीएसटी में 13.9 प्रतिशत और वस्तुओं के आयात से जीएसटी में 8.5 प्रतिशत की वृद्धि का है। फरवरी 2024 में रिफंड के बाद शुद्ध जीएसटी राजस्व 1.51 लाख करोड़ रुपये है, जो पिछले साल के इसी महीने की तुलना में 13.6 प्रतिशत ज्यादा है।

चालू वित्त वर्ष के लिए फरवरी 2024 तक कुल सकल जीएसटी संग्रह 18.40 लाख करोड़ रुपये है, जो वित्त वर्ष 2022-23 की समान अवधि के संग्रह से 11.7 प्रतिशत अधिक है। वित्त वर्ष 2023-24 के लिए औसत मासिक सकल संग्रह 1.67 लाख करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष के 1.5 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े से अधिक है। चालू वित्त वर्ष के लिए फरवरी 2024 तक रिफंड के बाद शुद्ध जीएसटी राजस्व 16.36 लाख करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 13 प्रतिशत अधिक है।

फरवरी 2024 के कलेक्शन का विवरण

*केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी): 31,785 करोड़ रुपये
*राज्य वस्तु एवं सेवा कर (एसजीएसटी): 39,615 करोड़ रुपये
*एकीकृत वस्तु एवं सेवा कर (आईजीएसटी): 84,098 करोड़ रुपये, जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 38,593 करोड़ रुपये शामिल है।
*उपकर: 12,839 करोड़ रुपये, जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 984 करोड़ रुपये शामिल है।

 

मेटा ने की सख्ती: जनवरी में भारत में एफबी , इंस्टाग्राम पर 2.2 करोड़ से अधिक कंटेंट हटाए

मेटा ने भारत में फेसबुक से 1.78 करोड़ और इंस्टाग्राम पर 48 लाख आपत्तिजनक कंटेंट को हटाया  

नई दिल्ली
प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनी मेटा ने जनवरी में भारत में फेसबुक पर 1.78 करोड़ से अधिक खराब कंटेंट और इंस्टाग्राम पर 48 लाख से अधिक आपत्तिजनक कंटेंट को हटा दिया। मेटा ने देश के आईटी नियमों के अनुरूप जारी आँकड़ों में बताया कि जनवरी में फेसबुक को भारतीय शिकायत तंत्र के माध्यम से 29,548 रिपोर्टें प्राप्त हुईं, और कहा कि उसने 21,060 मामलों में यूजरों के मुद्दों का समाधान किया।

मेटा ने कहा, अन्य 8,488 रिपोर्टों में से जहां विशेष समीक्षा की आवश्यकता थी, हमने अपनी नीतियों के अनुसार सामग्री का विश्लेषण किया, और कुल 4,632 शिकायतों पर कार्रवाई की। शेष 3,856 शिकायतों की समीक्षा की गई, लेकिन उन पर कार्रवाई नहीं की गई।

इंस्टाग्राम पर कंपनी को भारतीय शिकायत तंत्र के माध्यम से 19,311 रिपोर्टें प्राप्त हुईं। इसमें कहा गया है, इनमें से हमने 9,476 मामलों में यूजरों को उनके मुद्दों को हल करने के लिए उपकरण प्रदान किए। अन्य 9,835 रिपोर्टों में से जहां विशेष समीक्षा की आवश्यकता थी, मेटा ने सामग्री का विश्लेषण किया और कुल 4,849 शिकायतों पर कार्रवाई की।

शेष 4,986 रिपोर्टों की समीक्षा की गई लेकिन हो सकता है कि उन पर कार्रवाई न की गई हो। नए आईटी नियम 2021 के तहत 50 लाख से अधिक यूजरों वाले बड़े डिजिटल और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को मासिक अनुपालन रिपोर्ट प्रकाशित करनी होती है। मेटा ने दिसंबर 2023 में फेसबुक के लिए 1.98 करोड़ से अधिक कंटेंट और इंस्टाग्राम के लिए 62 लाख से अधिक कंटेंट हटा दिया।

 

Source : Agency

आपकी राय

6 + 5 =

पाठको की राय