Thursday, July 18th, 2024

2 छात्राओं ने लड़कियों के लिए बनाई विशेष जैकेट, टच करते ही लगेगा जोर का झटका

जबलपुर
मध्य प्रदेश के जबलपुर में इंजीनियरिंग का कमाल देखने को मिला. यहां तीन लेडी इंजीनियर ने एक ऐसी जैकेट बनाई है, जो महिलाओं को छेड़ने वालों को जोर का झटका धीरे से देगी. यह जैकेट पूरी तरह बॉडी गार्ड की तरह काम करेगी. यह जैकेट न केवल छेड़छाड़ करने वालों को सबक सिखाएगी, बल्कि महिलाओं से संबंधित फोन नंबरों पर अलर्ट मैसेज भी भेज देगी.

 रिया चिव, अदिती और श्वेता नामदेव का कहना है कि समाज में अपराध लगातार बढ़ते जा रहे हैं. हममने पाया कि कामकाजी महिलाओं के सामने सबसे बड़ी चुनौती खुद की सुरक्षा है. लंबी दूरी के सफर में महिलाओं को कई बार ऐसी घटनाओं का सामना करना पड़ता है, जिसकी वजह से कई बार उनकी जिंदगी पर बात बन आती है.

उन्होंने बताया कि ऐसी ही विपरीत परिस्थितियों के बारे में सोचने के बाद इस जैकेट को बनाने का ख्याल आया. उन्होंने बताया कि उनकी स्टार्टअप कंपनी का नाम जिज्ञासा है. यह कंपनी जबलपुर इनक्यूबेशन सेंटर में रजिस्टर्ड है. वहीं इस जैकेट की प्लानिंग हुई और फिर उसे मूर्त रूप दिया गया. इससे कई महिलाओं को फायदा होगा.

रिया चिव, अदिती और श्वेता ने बताया कि इस जैकेट में दो विशेषताएं हैं. पूरे जैकेट को एक सर्किट से जोड़ा गया है. जब भी महिलाओं को लगे कि वह खतरे में हैं तो केवल एक बटन दबा दें. इससे पूरे जैकेट में पावर सप्लाई ऑन हो जाएगी. इससे जैकेट में करेंट फैल जाएगा. जैसे ही कोई शख्स छूने की कोशिश करेगा, उसे तगड़ा झटका लगेगा.

इस जैकेट की दूसरी विशेषता है कि यह एक सॉफ्टवेयर प्लेटफार्म से जुड़ी हुई है. इसके जरिये महिला का मोबाइल उसकी लोकेशन के साथ -साथ उसके इमरजेंसी नंबरों से जुड़ जाएगा. आपात स्थिति में बटन दबाते ही यह सॉफ्टवेयर सभी नंबरों पर अलर्ट मैसेज भेज देगा. कोई भी इस जैकेट का इस्तेमाल आसानी से कर सकता है.

तीनों युवतियों का कहना है कि इसकी लागत फिलहाल 4000 रुपये है. लेकिन, जब इसे बड़े स्तर पर बनाया जाएगा तो इसकी लागत कम हो जाएगी. यह जैकेट बहुत सस्ते में मिलने लगेगी. उनका कहना है कि इसकी मार्केटिंग और डिजाइनिंग पर अभी और काम चल रहा है. हमें यकीन है कि महिलाएं इन्हें काफी पसंद करेंगीं.

Source : Agency

आपकी राय

8 + 6 =

पाठको की राय