आखिर क्यो हो रहे दोबारा कोरोना से संक्रमित? वैज्ञानिकों का बडा खुलासा

देश/विदेश: कोरोना अपनी जडे में सफल नजर आ रहा है। आपको बतादे कि अभी आप यह सुन रहे होंगे कि कोरोना वायरस से ठीक हो चुके मरीजो में फिर से कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है आखिर ऐसा क्यो?

 why are corona infected again

आपको बतादे कि दक्षिण कोरिया में हाल ही में 141 लोग दोबारा कोरोना पॉजिटिव पाए गए। क्यों लोग दोबारा इस बीमारी के शिकार होते जा रहे हैं। इसका जवाब खोजा है दक्षिण कोरिया के डॉक्टरों ने।

आखिर क्यो दोबारा कोरोना से संक्रमित

South कोरिया के वैज्ञानिकों और Expert डॉक्टरों ने यह पता लगाया है कि आखिर क्यों कोरोना वायरस की चपेट में लोग दोबारा आ रहे हैं। दक्षिण कोरिया में दोबारा कोरोना पॉजिटिव हुए 141 मामलों का अध्ययन किया जा रहा है।

T-Lymphocytes पर हमला करता है

यह रिसर्च किया जा रहा है कि कोरिया सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (KCDC) की प्रयोगशाला में। यहां के वैज्ञानिकों का कहना है कि वायरस इंसानी शरीर में मौजूद इम्यून सेल्स यानी प्रतिरोधक कोशिका टी-लिम्फोसाइट्स (T-Lymphocytes) पर हमला कर उन्हें निष्क्रिय कर दे रहा है।

T- Lymphocytes के निष्क्रिय होने की वजह से दोबारा संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। क्योंकि एक बार किसी इंसान के शरीर की इम्यूनिटी Capacity कम हो जाए तो उसे वापस ठीक करने में कई महीने लग सकते हैं|

एक खबर के अनुसार वैज्ञानिकों ने बताया कि कोरोना वायरस एक बार शरीर पर हमला करने के बाद शरीर के अंदर ही सो जाता है। या यूं कहें कि कुछ दिन के लिए अपनी हरकतें शरीर के अन्दर बंद कर देता है।

जैसे ही कोरोना वायरस को पता चलता है कि इस इंसान के शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम हो गई या कम होने वाली है। वह उसी समय मानव शरीर पर सम्पुर्ण वेग से हमला कर देता है। यानी कोरोना का संक्रमण दोबारा आपके शरीर पर दिखने लगता है।

कोरिया यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ फार्मेसी के वायरोलॉजिस्ट किम जियोंग की ने कहा कि करीब एक महीने पहले हमने जिस मरीज को ठीक किया था, अब वह दोबारा कोरोना संक्रमित होकर सामने आ रहा है। जब हमने उसकी इम्यूनिटी की जांच की गई तो पता चला कि वह बेहद कमजोर पायी गई। कोरोना वायरस इसी का फायदा उठा रहा है।

दक्षिण कोरिया, अमेरिका और चीन में एकसाथ हुए रिसर्च में यह इस बात कि पुष्ठी हो गई है कि कोरोना वायरस शरीर के टी-लिम्फोसाइट्स पर सीधा हमला कर रहा है। इससे इंसान के शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम हो रही है।

बतादे कि T- Lymphocytes इंसान के शरीर में मौजूद वो प्रतिरोधक कोशिकाएं होती हैं जो किसी भी बीमारी से लड़ने में हमारी बहुत मदद करती हैं। अगर वायरस इन्हें कमजोर कर रहा है तो समझ लिजिए कि आपको अपनी इम्यूनिटी को बनाए रखना होगा। ताकि आप कोरोना की चपेट में आने से बचे रहें।

देश में कोरोना संक्रमण 12 हज़ार के पार, जाने पुरी रिपोर्ट देश में कोनसा राज्य शीर्ष पर


Leave a Comment