Vishwa Hindu Parishad VHP

विश्व हिंदू परिषद VHP: राम मंदिर फैसला के बाद बनाई जा रही ऐसी योजनाए

देश

नमस्कार दोस्तो: अयोध्या मामला पुरी तरह साफ हो गया है कि उस भुमि पर राम लला का मन्दिर बनेगा और बावरी मस्जिद के लिए अलग से 5 एकड जमीन प्रस्तावित कर दि है।

Vishwa Hindu Parishad VHP

विश्व हिंदू परिषद के प्रचारक पुरुषोत्तम नारायण सिंह ने कहा कि, “इसकी वजह से अन्य गैर-भाजपा राजनीतिक दलों को मुस्लिम तुष्टीकरण की नीति को छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा। हिंदू जागरण मंदिर आंदोलन का एक परिणाम है।”

विश्व हिंदू परिषद (VHP) का मन इस तरफ

आपको बतादे कि राम मंदिर पर पिछले तीन दशक लंबा तक चला आंदोलन भले ही अपने आज तर्क-वितर्क निष्कर्ष पर पहुंच गया है, लेकिन इसके पश्चात भी इस आंदोलन का प्रतिनिधी करने वाले विश्व हिंदू परिषद (VHP) इससे आगे बढ़ने के मूड में नहीं लगते दिखाइ दे रहे हैं। विश्व हिंदू परिषद VHP आने वाले महीनों में राम मंदिर पर आधारीत कार्यक्रमों की के लिए योजना बना रही है। VHP ‘राम महोत्सव’ के साथ आने वाले चार महीनों में ग्रामीण स्तर से लेकर शहरो में अन्य कार्यक्रमों का आयोजन करेगी।  इस विषय में अभी बहुत काम बाकी है और कुछ काम हो रहा है।

विश्व हिंदु परिषद के वरिष्ठ प्रचारक पुरुषोत्तम नारायण सिंह का कहना है कि राम मंदिर मुद्दे पर हिंदुओं को जागृत रखना अति आवश्यक है।

1. अयोध्या कांड: कैसे शुरु हुआ राम मंदिर और मस्जिद का विवाद..

उन्होंने कहा, “इसकी वजह से अन्य गैर-भाजपा राजनीतिक दलों को मुस्लिम तुष्टीकरण की नीति को छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा। हिंदूओ में जन- जागरण मंदिर आंदोलन का एक परिणाम है। धर्मनिरपेक्षता और आपसी मतभेद के कारण हिंदुओं को सदियों से दूसरे दर्जे का नागरिक माना जाता रहा है। जो अब सहन नहीं किया जाएगा”।

इस तरह इन तमाम कार्यक्रमों के माध्यम से परिषद के लोग  जनता  को बताएगी कि किस तरह से राम मंदिर के लिए लड़ाई अदालत के अंदर और बाहर लड़ी गई और अयोध्या आंदोलन में इनकी क्या अहम भूमिका रही है।

क्या आपने कभी घी वाली कॉफी पी है? नहीं तो चलिए टेस्ट और फायदे जानते है

Leave a Reply