Jammu and Kashmir Indian state :Mahmud Qureshi

UNHRC में पाकिस्तान के मुंह से निकला सच, जम्मू कश्मीर भारतीय राज्य: महमूद कुरैशी

देश

नमस्कार दोस्तो, UNHRC अर्थात संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा रद्द किये जाने को लेकर भारत पर हमला बोलने के समय में पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के मुंह से सच बाहर आ गया। महमूद कुरैशी ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर को एक “भारतीय राज्य” बताया। 

Jammu and Kashmir Indian state

महत्वपुर्ण तथ्य जो आपको जानना ज़रुरी है !

  • शाह महमूद कुरैशी के मुंह से निकला सच- भारत क्यों अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं को अपने राज्य जम्मू-कश्मीर जाने से रोक रहा है।
  • UNHRC संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का 42वां सत्र 9 से 27 सितंबर तक चलेगा।
  • भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व हाई कमिश्नर अजय बिसारिया और विजय ठाकुर सिंह कर रहे।

भारत द्वारा प्रशासित कश्मीर

सुचना देते चले कि विदेश मंत्रालय की सचिव विजय ठाकुर सिंह ने यूएन में कहा कि एक डेलिगेशन यहां सीधे झूठी बातें कह रहा है। दुनिया सब जानती है कि यह बातें ऐसे आतंक के केंद्र से आ रही हैं जो लंबे समय से आतंकियों का पनाहगाह रहा है। 

आपको जानकारी देदे कि पाकिस्तान अब तक जम्मू-कश्मीर को “भारत द्वारा प्रशासित कश्मीर” कहता रहा आ रहा था।  

Jammu and Kashmir Indian state: Mahmud Qureshi

UNHRC अर्थात United Nations Human Rights Council में अपने संबोधन के बाद कुरैशी ने संवाददाताओं को बताया, “भारत दुनिया को यह दिखाने की कोशिश कर रहा है कि जनजीवन सामान्य हो गया है। अगर जनजीवन सामान्य हो गया है तो उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मीडिया, गैर सरकारी संगठनों, नागरिक समाज संगठनों को भारतीय राज्य जम्मू कश्मीर में जाने और खुद हकीकत देखने की इजाजत क्यों नहीं दी।”

कुरैशी जिनेवा में UNHRC के 42वें सत्र जो 9 से 27 सितंबर तक चलेगा में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। 

Jammu and Kashmir Indian state
Jammu and Kashmir Indian state

इससे पहले अपने भाषण में विदेश मंत्री ने मांग की थी कि कश्मीर की स्थिति पर United Nations Human Rights Council द्वारा एक अंतरराष्ट्रीय जांच हो और विश्व निकाय से इस मामले में “तटस्थ” नहीं रहने का अनुरोध किया।

 
चलिए जान लेते है कि जेनेवा में चल रहे संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 42 वां सत्र में भारत,  बलूचिस्तान और खैबर में पाकिस्तान द्वारा किए जा रहे मानवाधिकारों के उल्लंघन का पोल खोलने की पुरी तैयारी में है। जहां यह सत्र चल रहा है वहां सामने पाकिस्‍तान में बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा में मानवाधिकारों के उल्लंघन को उजागर करने वाले पोस्टर और बैनर लगाए गए हैं।

खुद कर रहा मानवाधिकार हनन 

पाकिस्तान ने भारत पर मानवाधिकार हनन आरोपों के बीच वो खुद ही मानवाधिकार हनन में घिरता दिख रहा है। पाकिस्तान ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस इस्तेमाल किए और उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

Chandrayaan-2 चांद की सतह पर विक्रम के लैंडर का पता चला, ऑर्बिटर ने फोटो ली; संपर्क की उम्मीद बडी : ISRO

Leave a Reply