What did PM Modi say on Jethmalani's death

RIP Ram Jethmalani : पीएम मोदी ने जेठमलानी के निधन पर क्या कहा ?

देश

शोक संदेश, Ram Jethmalani देश के दिग्गज वकील और केंद्रीय कानून मंत्री रहे का दिल्ली में सुबह 95 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। आपको बतादे कि जेठमलानी पिछले दो हफ्तों से गंभीर रूप से बीमार चल रहे थे। जेठमलानी, अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के समय कानून मंत्री और शहरी विकास मंत्री रहे हैं

RIP Ram Jethmalani

इस शोक समाचार के बाद प्रधानमंत्री मोदी, उपराष्ट्रपति से समेत कई दिग्गज हस्तियो ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित कि है।  तो चलिए जानते हैं किसने क्या कहा…

PM MODI : निडर थे जेठमलानी

पीएम मोदी ने राम जेठमलानी के निधन पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने अपने ट्वीटर पर लिखा है कि, ‘राम जेठमलानी के सबसे अच्छे पहलुओं में से एक उनके मन की बात कहने की क्षमता थी और उन्होंने बिना किसी डर के ऐसा किया। आपातकाल के दिनों के दौरान उनकी स्वतंत्रता और सार्वजनिक स्वतंत्रता के लिए लड़ाई को याद किया जाएगा। जरूरतमंदों की मदद करना उनके व्यक्तित्व का एक अनुठा हिस्सा था।

 मोदि ने कहाँ मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि राम जेठमलानी के साथ बातचीत करने के कई अवसर मिले। इन दुखद क्षणों में उनके परिवार, दोस्तों और कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना। शांति।

अमित शाह: ‘मशहूर वकील ही नहीं महान व्यक्तित्व भी के धनी थे’

गृह मंत्री अमित शाह ने जेठमलानी के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि  भारत के वरिष्ठ वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी जी के निधन के बारे में जानने पर गहरी पीड़ा हुई। केंद्रिय गृह मंत्री अमित शाह ने कहाँ हमने न केवल एक प्रतिष्ठित वकील को खोया है, बल्कि एक महान व्यक्ति भी थे, जो जीवन से भरा हुए था

वेंकैया नायडू: ‘महान बौद्धिक और देशभक्त खो दिया’

राम जेठमलानी के निधन पर उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी दुख जताया है। राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ट्वीट कर लिखा है, पूर्व केंद्रीय मंत्री, एक कानूनी जानकार और भारत के प्रतिभाशाली दिमागों में से एक श्री राम जेठमलानी के निधन से गहरा दुःख हुआ। उनके निधन से राष्ट्र ने एक प्रतिष्ठित न्यायविद्, एक महान बौद्धिक और देशभक्त खो दिया है, जो अपनी अंतिम सांस तक सक्रिय थे|

रविशंकर प्रसाद: ‘कानून के गहरी समझ रखते थे’

राम जेठमलानी के निधन पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट कर उन्हें भावपुर्ण श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट किया कि, ‘अनुभवी वकील और पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करता हूं। उनकी प्रतिभा, वाक्पटुता, शक्तिशाली वकालत और उनकी कानून की समझ, कानूनी पेशे में एक योग्य उदाहरण बनी रहेगी। मेरी गहरी संवेदना।’

सुब्रमण्यम स्वामी: मैंने अच्छा दोस्त खो गया

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील रहे राम जेठमलानी के निधन पर सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। सुब्रमण्यम स्वामी ने लिखा, ‘ मेरे बहुत अच्छे दोस्त राम जेठमलानी का 95 वर्ष की आयु में आज निधन हो गया। विदाई मित्र।

यह भी जाने: Motor Vehicles Act: यदि पुलिसवाले ने ‘ट्रैफिक नियम’ तोड़ा तो उसका कितना कटेगा चालान ?



Leave a Reply