RSS in rally Assam

राहुल गांधी का फिर विवादित बयान बोले – असम को RSS की चड्डी वाले नहीं चलाएंगे..

राजनीति

Rahul targeted RSS in Assam,  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul ghandi)ने गुवाहाटी में एक रैली में कहा कि असम को नागपुर नही चला सकता या फिर असम को राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (RSS) की चड्डी वाले भी नही चला सकते है। राहुल गांधी ने कहा कि  कांग्रेस के 135वें स्थापना दिवस के अवसर पर पार्टी की रैली में राहुल गांधी ने कहा, ”हम बीजेपी और आरएसएस को असम का इतिहास, भाषा, संस्कृति पर आक्रमण नहीं करने देंगे। असम को नागपुर नहीं चलाएगा, असम को आरएसएस के चड्डी वाले नहीं चलाएंगे। असम को असम की जनता चलाएगी।”

Rahul targeted RSS in Assam

बतादे कि राहुल गांधी ने RSS को लेकर जो बयान दिया उस पर राज्यसभा सांसद और RSS विचार राकेश सिन्हा ने इस बयान पर कहा कि ”राहुल गांधी देश की राजनीति के विमर्श और संस्कृति और भाषा  को न्यूनतम स्तर पर ले जा रहे है। वे गाली गलौज वाली भाषा का उपयोग कर राजनीति के स्तर को गिरा रहे हैं। RSS पर उनका बयान इसका ताजा उदाहरण है।”

Wel-Come 2020: जाने 2019 में भारत में कौन-कौन से अहम फैसले हुए?

राहुल गांधी ने असम को लेकर कहा कि  “असम समझौते की भावना को समाप्त नहीं किया जाना चाहिए, जिस कारण शांति आई है।“  कांग्रेस नेता राहुल गांधी ये भी कहा कि मुझे आशंका है कि बीजेपी की नीतियों के कारण असम हिंसा के रास्ते पर लौट रहा है।

कांग्रेस नेता राहुल ने CAA,  NRC और NPR के उपर भी कहा  कि…..

राहुल गांधी ने कहा कि CAA, NRC और NPR के विरोध में हुए प्रदर्शन का जिक्र करते हुए कहा, ”BJP सरकार जहां भी जाती है, नफरत फैलाती है। असम में युवा विरोध कर रहे हैं, अन्य राज्यों में भी विरोध हो रहा है। आप उन्हें क्यों मार रहे हैं? बीजेपी लोगों की आवाज नहीं सुनना चाहती।”


पार्टी के 135वे स्थापना दिवस पर सामिल हुए थे

बतादे कि पार्टी के 135वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम से अलग राहुल गांधी ने दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में कहा, ”ये NCR और NPR  नोटबन्दी नंबर 2 है। इससे हिंदुस्तान के गरीबों को बहुत नुकसान होने जा रहा है। नोटबन्दी तो भूल जाइये, ये उससे दोगुना झटका होगा। इसमें हर गरीब आदमी से पूछा जाएगा कि वह हिंदुस्तान का नागरिक है या नहीं। राहुल ने ये भी कहा कि उनके जो 15 दोस्त हैं उनको कोई दस्तावेज दिखाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।”

CAA: नागरिकता संशोधन बिल क्या है? घर-घर जाकर समझाएगी BJP सरकार

Leave a Reply