Sunday, June 16th, 2024

लोन चुकाने के चक्कर में महिला ने डाउनलोड किया ऑनलाइन गेम, 2 लाख रुपए हारी तो कर लिया सुसाइड

छिंदवाड़ा

छिंदवाड़ा में ऑनलाइन गेम में रुपये हारने के बाद एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. महिला आंगनवाड़ी सुपरवाइजर थी. वह अपना होम लोन जल्दी चुकाना चाहती थी, इसीलिए ऑनलाइन गेम के फेर में पड़ गई और करीब 2 लाख रुपए हार गई. पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

जिले के जुन्नारदेव थाना इलाके के ग्राम चटुआ का यह मामला है. यहां रहने वाली 38 साल की सरला पति हरिराम सल्लाम ने साल 2022 में होम लोन लिया था. इसके अलावा, सरला ऑनलाइन गेम खेलती थी और वह करीब 2 लाख रुपये भी हार गई थी. इसके बाद से ही वह तनाव में रहती थी.

बीते शनिवार को सरला ने अपने घर के एक कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. मृतका ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है. पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर मामले की जांच कर रही है.

  बता दें कि महिला का टीचर पति स्कूल गया हुआ था. उसने जब घर में कॉल लगाया तो पत्नी ने फोन नहीं उठाया था. जब घर आकर देखा तो महिला फांसी के फंदे पर झूल रही थी. उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया. मृतका की एक बेटी भी है.

जुन्नारदेव एसडीपीओ राजेश बंजारे ने बताया, आंगनबाड़ी सुपरवाइजर सरला सल्लाम ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. हमने मर्ग कायम किया है. पुलिस अभी जांच कर रही है.

शुरुआती जांच में पता चला है कि महिला ने होम लोन लिया था. इसे चुकाने के चक्कर में महिला ऑनलाइन गेम खेलती थी. लेकिन गेम भी पैसे हार गई तो उसी के चलते फांसी लगा ली. 

ऑनलाइन गेमिंग के लुभावने झांसे में आई महिला

दरअसल, महिला घर बनाने के लिए होम लोन ली थी और वो लोन का पैसा जल्द चुकाना चाहती थी. इसे चुकाने के चक्कर में महिला ऑनलाइन गेमिंग के लुभावने झांसे में आ गई. वहीं महिला ऑनलाइन गेम खेलने के दौरान पैसे हार गई, जिसके कारण वो फांसी लगा ली.  बता दें कि महिला ने रमी गेम पर पैसा लगाया था.

सुपरवाइजर के पद पर थी महिला

जुन्नारदेव एसडीओपी राजेश सिंह बंजारा ने बताया कि चटुआ में सल्लाम परिवार रहता है. 45 साल के हरिराम सल्लाम शासकीय माध्यमिक शाला कुआंझिरी में बतौर शिक्षक पदस्थ हैं और उसकी 38 वर्षीय पत्नी सरला सल्लाम महिला बाल विकास विभाग जुन्नारदेव में सुपरवाइजर के रूप में काम करती थी.

पैसे हारने पर लगाई फांसी

राजेश सिंह बंजारा ने आगे बताया कि महिला ने घर बनाने के लिए लोन लिया था. लोन का पैसा जल्द चुकाने के चक्कर में वह ऑनलाइन गेम के लुभावने झांसे में फंस गई. गेम खेलने के लिए उसने अपने कई रिश्तेदारों से भी कर्ज ले लिया. जब हार की रकम बहुत अधिक हो गई तब उसे कोई रास्ता दिखाई ना दी और फिर उसने खुद को कमरे में बंद कर फांसी लगा ली.

Source : Agency

आपकी राय

8 + 2 =

पाठको की राय