Sunday, July 14th, 2024

ग्लूटाथियोन: त्वचा की देखभाल के लिए अत्यधिक प्रभावी उपाय

गर्मियों का मौसम अकेले नहीं आता है बल्कि ये अपने साथ चमकती हुई धूप, डिहाइड्रेशन और स्किन से जुड़ी कई समस्याओं को लेकर भी आता है। डिहाइड्रेशन का असर सिर्फ गला सूखने या प्यास लगने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इससे कहीं ज्यादा है।

इस की वजह से चेहरा बेजान, रुखा, काला और डल दिखने लगता है। जिसकी वजह से सूजन और झुर्रियों की समस्या भी हो सकती है। ऐसे में ग्लूटाथियोन आपकी मदद कर सकता है। कैसे ये हमारी स्किन के लिए फायदेमंद है बता रहे हैं 'ओजिवा' के सह संस्थापक बायोटेक्नोलॉजिस्ट एंड बायो इंफॉर्मेटिशियन मिहिर गडानी।

ग्लूटाथियोन त्वचा के लिए कितना फायदेमंद है?

ग्लूटाथियोन सिर्फ एक ट्रेंडी शब्द भर नहीं, बल्कि ये हमारी स्किन को सेहतमंद, चमकदार और कोमल बनाए रखने में बहुत ही बड़ी भूमिका निभाता है। इसमें कई सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हमारी स्किन को हेल्दी रखने में मदद करते हैं। तो आइए जानते हैं ये कैसे हमारी स्किन के लिए फायदेमंद होता है।

एंटीऑक्सीडेंट का एक भंडार है

ग्लूटाथियोन हमारी स्किन सेल्स को खत्म करने वाले और एजिंग साइन को बढ़ाने वाले फ्री रेडिकल्स, इंबैलेंस मोलेक्युल्स से लड़ता है। ये फ्री रेडिकल्स सूरज की किरणों, प्रदूषण और कई बार तनाव जैसे कारणों की वजह से बनते हैं। ग्लूटाथियोन इन फ्री रेडिकल्स के असर को कम कर झुर्रियों को बढ़ने से रोकता है और धूप से होने वाले स्किन डैमेज से भी बचाता है।

मेलानिन का निर्माण

मेलानिन स्किन को चमकदार बनाने का काम करता है और ग्लूटाथियोन, मेलानिन को बनाने में एक अहम भूमिका निभाता है। ये पिग्मेंट स्किन को रंगत देने का काम करत है। ग्लूटाथियोन एंजाइम टायरोसिनेस को रोकने में मदद करता है जो मेलानिन (डार्क मेलानिन) के उत्पादन को ट्रिगर करते हैं। इससे त्वचा को इवन टोन मिलती है और हाई पिगमेंटेशन कम भी होता है, जिसकी वजह से रंग ज्यादा गोरा और चमकदार हो जाता है।

डिटॉक्स करने में करता है मदद

ग्लूटाथियोन आपके शरीर की प्राकृतिक डिटॉक्सिफिकेशन प्रक्रिया में मदद करता है। मुंहासे और खुजली जैसी त्वचा से जुड़ी समस्याओं के कारण, टॉक्सिन्स तथा अशुद्धियों को भी दूर करने में भी मददगार हो सकता है।

Source : Agency

आपकी राय

8 + 15 =

पाठको की राय