Corona can spread rapidly in India

Coronavirus: इस तेजी से भारत में फैल सकता है कोरोना, जाने पुरा गणित…

देश

Corona Can Spread Rapidly In India :भारत मे कोरोना महामारी का प्रकोप बढता जा रहा है सोमवार को कोविड-19 (COVID-19) संक्रमित दो लोगों की मौत हो गई। इस बीच अब यह बात सामने आ रही है कि भारत में भी इसके मामले बहुत तेजी से बढ़ सकते हैं जिसे संभालना भारत के लिए मुश्किल हि नही अपितु नामुमकिन होगा।

Corona virus Helpline number

 आपको बतादे कि देश में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है। और भारत में अब 470 लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो चुके हैं और आकडो के मुताबिक अब तक 9 लोगों की जान भी जा चुकी है

Janaata Curfew के एक दिन बाद सोमवार को कोविड-19 (COVID-19) संक्रमित दो लोगों की मौत हो गई। इस बीच अब ये बात सामने आ रही है कि भारत में भी इसके मामले तेजी से बढ़ सकते हैं।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की रिपोर्ट में कहा गया है कि काफी कोशिश की जाए और सबकुछ देशहित में होगा तभी कोविड-19 को तेजी से फैलने को रोका जा सकता है। ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, अगर स्थिति मे सुधार नही हुआ तो दिल्ली में इसके 15 लाख मामले हो सकते हैं, वहीं मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु में 5-5 लाख लोग इसके संक्रमण के शिकार हो सकते हैं।

अगले महज़ 50 दिनों गम्भीर स्तिथी

ICMR की तरफ से 27 फरवरी को जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि फरवरी से शुरू होकर 200 दिनों तक यह वायरस भारत में अपने चरम पर होगा| वहीं अगर बदत हालात बनते हैं तो फरवरी से अगले महज़ 50 दिनों के भीतर ही भारत में इसके मामले काफी तेजी से बढ़े हुए दिख सकते हैं| ऐसे हालात में दिल्ली में संक्रमण का मामला एक करोड़ तक पहुंच सकता है, वहीं मुंबई में 40 लाख तक लोगो के इसकी चपेट में आने कि पुरी सम्भावना हैं।

इस तरह से कोरोना के मामलों का ग्राफ नीचे आ जाएगा

ICMR के मुताबिक सामाजिक दूरी (Social Distancing) बनाने के सुझाव का कड़ाई से पालन करने से कोरोनावायरस महामारी के कुल संभावित मामलों की संख्या मे शत-प्रतिशत तक कम हो जाएगी| Covid-19 के प्रसार की शुरुआती समझ के आधार पर भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने जो गणितीय सिस्टम तैयार किया है, उसके मुताबिक कोरोना वायरस के संदिग्ध लक्षणों वाले यात्रियों की प्रवेश के समय स्क्रीनिंग से अन्य लोगों में वायरस के संक्रमण को एक से तीन सप्ताह तक रोका जा सकता है।

ICMR ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के लक्षणों वाले और संदिग्ध मामलों वाले लोगों के घरों में एकांत में रहने जैसे सामाजिक दूरी बनाने के उपायों का कड़ाई से पालन करने से कुल संभावित मामलों की संख्या में 50-60 प्रतिशत की और सर्वाधिक मामलों की संख्या में 89 प्रतिशत की कमी आएगी। और इस तरह से ग्राफ समतल हो जाएगा तथा रोकथाम के अधिक अवसर मिल सकेंगे।”

Corona Virus: चीन मे कोरोना से राहत मगर इटली मे दुनिया कि सबसे ज्यादा मौते

Leave a Reply